Surah Ikhlas In Hindi – सूरह इखलास हिन्दी में

आज के इस पैगाम में आप सूरह इखलास यानी कुल हु वल्लाहु शरीफ को हिन्दी में जानेंगे, आप को और हम सभी को मालुम होना चाहिए कि हमारा मज़हब यानी मज़हब ए इस्लाम में सूरह की कितनी अहमियत बरकत रहमत है हम सभी को जरूर सूरह मालुम होना चाहिए जिसे हम इस रंज व गम भरी जिन्दगी में फतह हासिल कर सकें।

आज आप एक ऐसी ही रहमत बरकत भरी सूरह यानी की सूरह इखलास पढेंगे जिसे हम सभी कुल हु वल्लाहु शरीफ भी कहते हैं, हम सभी को यानी मज़हब ए इस्लाम को नमाज़ पढ़ने में साथ ही कुछ हासिल करने में हर चीज़ में फतह पाने के लिए सुरह अति आवश्यक है इसीलिए इस पैग़ाम को ध्यान से पढ़िए और याद कर लीजिए।

Surah Ikhlas In Hindi

  • बिस्मिल्लाह हिर्रहमाननिर्रहीम
  • कुल हु वल्लाहु अहद्
  • अल्लाहुस् समद
  • लम य लिद् वलम यूलद
  • वलम यकुं ल्लहु कुफुवन अहद

Must Read: Surah Fatiha In Hindi

सूरह इखलास हिंदी में

बिस्मिल्लाह हिर्रहमान निर्रहीम• कुल हू वल्लाहु अहद्• अल्लाहु स् समद• लम य लिद् वलम यूलद• वलम यकुं ल्लहु कुफुवन अहद•

Surah Ikhlas In English

  • Bismillah Hirahman-nirrahim
  • Qul Hu Wallahu Ahad•
  • Allahus Samad•
  • Lam Y Lid Walam Yulad•
  • Walam Yaku llahu Kufuwan Ahad•

सूरह इखलास का हिन्दी तर्जुमा

  • अल्लाह के नाम से शुरू जो बहुत मेहरबान रहमत वाला
  • तुम फरमाओ वह अल्लाह है वह एक है
  • अल्लाह बेनियाज है
  • न उसकी कोई औलाद और न वह किसी से पैदा हुआ है
  • और न उसके जोड़ का कोई

Surah Ikhlas Tarjuma English

  • Allah Ke Naam Se Shuru Jo Bahut Meharban Rahmat Wala
  • Tum Farmao Wah Allah Ek Hai
  • Allah Baniyaz Hai
  • Na Uski Koi Aulad Aur Na Wah Kisi Se Paida Hua Hai
  • Aur N Uske Jod Ka Koi

सूरह इखलास के बारे में जानिए

सूरह इखलास मक्के में उतरी जबकि कुछ ने कहा की मदीने में नाजिल हुई, इसमें एक रूकु चार या पांच आयते पन्द्रह कलीमे और सैंतालीस अक्षर है।

आखिरी बात

आपने इस पैगाम में सूरह इखलास हिन्दी में बहुत ही आसानी से जाना यह आप को याद भी हो गया होगा जिस तरह से लिखा हुआ है उसी तरह से सही तरीक़े से सूरह इखलास हिन्दी में पढ़ें, अपना मुंह से सही तरीक़े से सूरह इखलास हिन्दी में पढ़ें हर लफ्ज़ को ध्यान से और अच्छे से पढ़ें।

आपको बता दें की कुरआन करीम को सही लफ्ज़ और हर एक शब्द को अपने मुंह से सही से उच्चारण करके पढ़ने में बहुत बड़ी नेकी और एचीवमेंट हासिल होती है इसीलिए हमने आपको सूरह इखलास को हिन्दी में अच्छे उच्चारण से पढ़ने के लिए बोला इसे दुर दुर तक पहुंचा कर अपने नामाए आमाल में सवाब इजाफा करें।

Leave a Comment